भ्रष्टाचार

विजय सिन्हा ने भ्रष्टाचार के खिलाफ चल रहे अनशन को तुड़वाया, शिकायतों के समाधान के लिए बनी जांच टीम

Lakhisarai: बिहार विधानसभा के अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने रविवार को लखीसराय में जन शिकायत सुनी. सिन्हा ने कहा कि जनसंवाद कल्याण में जिले के विभिन्न विभागों का शिकायत प्राप्त हुआ है जिसमें प्रधानमंत्री आवास योजना में वित्तीय अनियमितता एवं नाम के चयन में व्यापक गड़बड़ी की शिकायत आई है. इसके निराकरण के लिए संबंधित पधाधिकारी को आदेश दिया गया एवं पंचायत में मनरेगा से संबंधित अनेक शिकायत प्राप्त हुए हैं.

साथ ही साथ ही कजरा एनटीपीसी में जमीन अधिग्रहण का मामला एवं खनन से संबंधित शिकायत प्राप्त हुआ है कि निजी किसान जो अपना मिट्टी निकालते हैं उनको भी गलत ढंग से केस कर परेशान करने का शिकायत प्राप्त हुआ है. संबंधित पदाधिकारी को इसका निदान करने का निर्देश तुरंत दिया गया है. जमीन से संबंधित जमाबंदी एवं सुधार से संबंधित शिकायत प्राप्त हुए हैं, अमहरा थाना का संचालन विद्यालय में हो रहा है. इसका भी शिकायत प्राप्त हुआ है इसका भी निदान करने का आदेश दिया गया है.

उन्होंने कहा कि विगत 3 दिनों से बड़हिया नगर परिषद में भ्रष्टाचार के विरुद्ध 3 दिन से अनशन का आज समापन कर दिया गया है. अनशन कर्ता पूर्व उपाध्यक्ष प्रमोद सिंह एवं अध्यक्ष बसंती देवी के द्वारा दिया गया था. इस पर जिला अधिकारी को आदेश दिया गया जांच करने को जिलाधिकारी ने तुरंत जांच कमेटी गठित किया एवं 30 जून तक शिकायत की जांच कर रिपोर्ट सौंपने का आदेश जारी हुआ है. इसके साथ उस अनशन को समाप्त किया गया.

जिले में जिस पदाधिकारी के ऊपर भ्रष्टाचार का आरोप लगता है, उनके कार्यालय में सीसीटीवी कैमरा लगाया जाए एवं उनकी कार्यशैली एवं  संपत्ति की जांच कराई जाएगी और उनकी जिम्मेवारी भी तय की जाएगी. लखीसराय में हुए व्यापक हिंसा प्रदर्शन को लेकर बिहार विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि वे लोग जो लखीसराय के शांति को प्रभावित किए सरकारी संपत्ति को क्षति पहुंचाए एवं भाजपा के कार्यालय में तोड़फोड़ किए यह हिंसक प्रदर्शन करने वाले लोग कभी अग्निवीर नहीं हो सकते. कभी देश के रक्षक नहीं हो सकते. इस घटना से लखीसराय कलंकित हुआ है एवं समाज के प्रबुद्ध लोग वैसे लोगों को कभी प्रोत्साहित नहीं करें. प्रशासन दोषियों को चिन्हित कर सख्त कार्रवाई करें.

ऐसे लोगों के प्रति कोई नरमी दिखाने की आवश्यकता नहीं है. लोकतंत्र में पक्ष और विपक्ष का एक स्वतंत्र व्यवस्था किया गया विरोध और सहमति इस के दो पहलू है. विरोध हो सकते हैं परंतु विरोध हिंसा का रूप ले यह कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. लखीसराय में घटित घटना को शर्मसार किया है. प्रशासन इसकी समीक्षा करेगी एवं दोषियों के ऊपर सख्त कार्रवाई होगी.

उन्होंने कहा कि हिंसक प्रदर्शन का जो सीसीटीवी फुटेज और मीडिया के माध्यम से जो वीडियो उपलब्ध हुए हैं प्रशासन उसको चिन्हित करें और उस पर सख्त कार्रवाई करें. समाज के प्रबुद्ध लोग भी वैसे युवाओं के भावना को बहका कर कोई गलत कार्य नहीं करवा ले जिससे लखीसराय का बदनामी हो. प्रशासन में वह लोग जो इस हिंसा के जांच में लगे हुए हैं वह पूरी निष्पक्षता से जांच कर एक-एक व्यक्ति को चिन्हित कर कार्रवाई करें .

उन्होंने कहा कि किसी राजनीतिक सामाजिक पूर्वाग्रह से ग्रसित होकर उसको बचाने का प्रयत्न नहीं करें. प्रेस वार्ता के दौरान भाजपा जिलाध्यक्ष प्रोफेसर देवानंद शाह एवं जिला के प्रभारी संजय कुमार किसान मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष महेंद्र प्रसाद यादव, युवा मोर्चा के अध्यक्ष दीपक कुमार, महामंत्री घनश्याम, नरोत्तम, जिला मीडिया प्रभारी विकास आनंद उपस्थित रहे.

Source link

What's your reaction?

Excited
0
Happy
0
In Love
0
Not Sure
0
Silly
0

You may also like

Comments are closed.